Printer-friendly version

पारिस्‍थितिकीय रूप से अनुकूल, सतत तथा लागत सापेक्ष तरीके से अर्थव्‍यवस्‍था के विभिन्‍न क्षेत्रों की मांग को पूरा करने के लिए कोयला उपलब्‍ध कराना।

कोयला मंत्रालय निम्‍नलिखित के लिए प्रतिबद्ध है:

  • उत्‍पादकता, सुरक्षा, गुणवत्‍ता और पारिस्‍थितिकी में सुधार लाने के उद्देश्‍य से अत्‍याधुनिक एवं स्‍वच्‍छ कोयला प्रौद्योगिकियों को अपनाकर सरकारी कंपनियों के साथ-साथ केप्‍टिव खनन कार्य के माध्‍यम से उत्‍पादन में बढ़ोतरी।
  • बढते प्रमाणित संसाधनों पर जोर देते हुए अन्‍वेषण प्रयासों में बढ़ोतरी करके संसाधन आधार को बढ़ाना।
  • कोयले की तुरन्‍त निकासी के लिए आवश्‍यक अवसंरचना विकास को सुविधाजरक बनाना।